मंगलवार ५ जनवरी को औसा संस्थान के ह.भ.प. श्री गुरु बाबा महाराज औसेकर प्रभु दर्शनार्थ माणिकनगर पधारे। प्रभु दर्शन के बाद श्रीगुरुबाबा, श्रीजी से मिले। महाराजश्री ने श्रीगुरु बाबा को प्रभु प्रसाद से अनुग्रहित किया। नाथ महाराज संस्थान औसा एवं श्रीप्रभु संस्थान के अत्यंत पुरातन संबंध हैं। श्रीप्रभुचरित्र में भी उल्लेख आया है, कि औसा मठ के तत्कालीन सत्पुरुष चिटगुप्पा में श्रीप्रभु से मिले थे। तब से लेकर श्रीप्रभु संस्थान एवं औसा संस्थान का जो स्नेह संबंध बना हुआ है वह पिछले कुछ वर्षों में अधिक दृढ़ बन चुका है, यह अत्यंत प्रसन्नता का विषय है। सन्‌ २०१७ में श्रीगुरुबाबा महाराज ने माणिकनगर में चक्री भजन सेवा की थी और वह कार्यक्रम इतनी अद्भुतरीति से सफल हुआ, कि भक्तगण आज भी उस कार्यक्रम की प्रशंसा करते नहीं थकते। श्रीप्रभु चरणों में हम प्रार्थना करते हैं, कि औसा संस्थान द्वारा लोक हितार्थ संचालित विविध सामाजिक एवं धार्मिक उपक्रामों की उत्तरोत्तर अभिवृद्धि हो और समाज में सर्वत्र शांति-सद्भावना बनी रहे।