कर्नाटक ब्राह्मण अभिवृद्धि मंडल के अध्यक्ष श्री एच.एस. सच्चिदानंद मूर्ती जी का आज माणिकनगर में प्रभु दर्शनार्थ आगमन हुआ। प्रभु मंदिर में दर्शन एवं आशीर्वचन के पश्चात्‌ मूर्ती जी ने श्री माणिकप्रभु वेद पाठशाला परिसर में जाकर वहॉं उपस्थित विद्यार्थियों एवं अध्यापकों से बात-चीत की। वैदिक परंपरा एवं ब्राह्मण समाज की अभिवृद्धि की दिशा में गत अनेक वर्षों से जो उल्लेखनीय कार्य इस प्रांत में श्री संस्थान ने किया है, मूर्ती जी ने उसकी सराहना की। अध्यक्ष सहित सभी सदस्यों ने यह आश्वासन दिया, कि भविष्य में ब्राह्मण अभिवृद्धि मंडल की ओर से विविध प्रकल्पों के माध्यम से संस्थान में चल रहे कार्य को संपूर्ण सहकार्य दिया जाएगा। इस अवसर पर हुमनाबाद ब्राह्मण समाज की ओर से नृसिंह निलय में एक चिंतन बैठक का आयोजन संपन्न हुआ। इस बैठक में उपस्थित जन समूह को मंडल द्वारा संचालित विविध प्रकल्पों की जानकारी दी गई। अध्यक्षजी ने अपने भाषण के दौरान संस्थान के कार्यकलापों की प्रशंसा करते हुए अत्यंत संतोष व्यक्त किया। इस सभा में संस्थान के सचिव श्री आनंदराज माणिकप्रभु, ब्राह्मण अभिवृद्धि मंडल के अध्यक्ष श्री सच्चिदानंद मूर्ती, निदेशक श्री भानुप्रकाश शर्मा, श्री सुब्बराय हेगडे, हुमनाबाद ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष श्री व्यंकटेश कुलकर्णी, श्री अशोक गोंबी, श्री सुधाकर राव कुलकर्णी, श्री केशवराव तलघटकर सहित भाल्की, हुमनाबाद, राजेश्र्वर, माणिकनगर, चिटगुप्पा, बसवकल्याण तथा आस पास के अनेक स्थानों से ब्राह्मण समाज के सभी गणमान्य सदस्य उपस्थित रहे। सभी अतिथियों ने श्रीजी के दर्शन प्राप्त किए और श्रीजी ने उन्हें श्रीप्रसाद से अनुग्रहित किया। कार्यक्रम के पश्चात्‌ सभी ने भंडारखाना में महाप्रसाद ग्रहण किया। इस कार्यक्रम के आयोजन के लिए हम हुमनाबाद ब्रह्मण समाज के अध्यक्ष एवं सभी सदस्यों का अभिनंदन करते हैं।