Catagories

माणिकनगर में ह.भ.प श्री गुरुबाबा औसेकर

माणिकनगर में ह.भ.प श्री गुरुबाबा औसेकर

मंगलवार ५ जनवरी को औसा संस्थान के ह.भ.प. श्री गुरु बाबा महाराज औसेकर प्रभु दर्शनार्थ माणिकनगर पधारे। प्रभु दर्शन के बाद श्रीगुरुबाबा, श्रीजी से मिले। महाराजश्री ने श्रीगुरु बाबा को प्रभु प्रसाद से अनुग्रहित किया। नाथ महाराज संस्थान औसा एवं श्रीप्रभु संस्थान के अत्यंत पुरातन संबंध हैं। श्रीप्रभुचरित्र में भी उल्लेख आया है, कि औसा मठ के तत्कालीन सत्पुरुष चिटगुप्पा में श्रीप्रभु से मिले थे।

read more
ज्ञानाकृति सच्चित्सुख प्रभु की

ज्ञानाकृति सच्चित्सुख प्रभु की

(कार्तिक कृ. सप्तमी - श्री सद्गुरु ज्ञानराज माणिकप्रभु महाराज की ६२वीं जयंती के उपलक्ष में) ज्ञानाकृति सच्चित्सुख प्रभु की प्राप्त हमें है सगुण सुलभ। पुण्य हुए हैं आज फलित जो मिला 'ज्ञान' आश्रय दुर्लभ।। ज्ञानपुंज सद्गुरू हमारे सच्चित्सुख औै ब्रह्मनिष्ठ। तव वाणी के ही...

read more
वन्दे गुरुपरंपराम्

वन्दे गुरुपरंपराम्

सद्रूपचिद्रूपसुखस्वरूपं तद्ब्रम्हवाच्यं परमात्मतत्वम् वन्देऽनसूयात्रिसुतं सुपूज्यं दत्ताभिधेयं गुरुराजमाद्यम् श्रीपादराजं गुरुषुद्वितीयं नृसिंहरूपं वरदं तृतीयम् श्रीमाणिकाख्यं यतिनं चतुर्थं श्रीभक्तकार्येषु कल्पद्रुमं तम् तत्पञ्चमं पूज्यमनोहराख्यं मार्तण्डनामानमपीह...

read more
गुरुपरम्परास्तोत्रम्

गुरुपरम्परास्तोत्रम्

यो दत्तश्श्रुतिगोचरस्त्रिगुणसूर्युक्तोऽगुणो मायया वव्रे दुर्दमनाय शिष्टगतये भूयोऽवतारानसौ। आद्यं निर्जरयोगिभिः परिवृतं ह्युत्पत्तिरक्षान्तकं आत्रेयप्रभुमाश्रयामि परमं शं नो भवेत्सर्वदा।१। काषायाम्बरधारिणं करतलेदण्डं जटामण्डनं भाले गन्धधरं कमण्डलुकरं मालावहन्तं गले।...

read more